पीएम मोदी से दिव्यांग छात्रा की अपील, स्कूल जाने वाली सड़क की मरम्मत की मांग...

छात्रा का नाम काजल है. उधमपुर के सरकारी स्कूल में पढ़ती है. काजल ने पत्र में बताया कि उनके स्कूल को जाने वाली सड़क की हालत बहुत जर्जर है जिसकी वजह से वो कई बार हादसे का शिकार हो चुकी है. ऐसे में पत्र के जरिए उसने अपने स्कूल की ओर जाने वाली जर्जर रोड़ की तरफ पीएम मोदी का ध्यान खिंचने की कोशिश की है.

पीएम मोदी से दिव्यांग छात्रा की अपील, स्कूल जाने वाली सड़क की मरम्मत की मांग...

Udhampur News : जम्मू कश्मीर के उधमपुर की रहने वाली एक दिव्यांग छात्रा की इन दिनों सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बनी हुई है. इसकी वजह ये है कि इस छात्रा ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर अपने स्कूल को जाने वाली सड़क की मरम्मत की मांग की है. 

पत्र में छात्रा ने बताया कि उनके स्कूल को जाने वाली सड़क की हालत बहुत जर्जर है जिसकी वजह से वो कई बार हादसे का शिकार हो चुकी है. ऐसे में पत्र के जरिए उसने अपने स्कूल की ओर जाने वाली जर्जर रोड़ की तरफ पीएम मोदी का ध्यान खिंचने की कोशिश की है. 

इस छात्रा का नाम काजल है. काजल उधमपुर के एक सरकारी स्कूल में छठी क्लास में पढ़ती है. पत्र में सबसे पहले काजल ने अपना परिचय दिया और फिर आगे लिखा कि उनके स्कूल की ओर जाने वाली सड़क की हालत बेहद खराब है जिसकी वजह से आए दिन उन्हें कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. 

यही नहीं, काजल ने आगे कहा कि इस खराब सड़क की वजह से वो कई बार गिर गई और उन्हें चोटें भी आई. आगे काजल ने लिखा कि इस रोड पर चलना मेरे और मेरे दोस्तों के लिए काफी जोखिम भरा है. ऐसे में मैं आपसे ये अनुरोध करती हूं कि हमें स्कूल तक जाने के लिए बेहत सड़क मिले. 

बता दें कि इस पत्र लिखने के मामले के सामने आने के बाद से जिला विकास आयुक्स रणजीत सिंह कोटवाल ने काजल की हालत और स्कूल जाने वाली सड़क को बेहतर करने की अपील पर ध्यान देने की बात कही है. उन्होंने कहा है कि सड़क की जर्जर हालत को ठीक करने का काम जल्द किया जाएगा.  काजल को पत्र लिख इस मामले को उनके संज्ञान में लाने के लिए धन्यवाद भी दिया है. 

आपको बता दें कि  अब  से कुछ वक्त पहले जम्मू के कठुआ की एक सीरत नाज़ नाम की छात्रा ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर अच्छी सड़क की मांग की थी और अब उधमपुर की काजल ने पीएम मोदी से सड़क सुधारने की गुहार लगाकर सबका ध्यान अपनी ओर खींचा है.

Latest news

Powered by Tomorrow.io