Fruits grown in Kashmir: कश्मीर के बागानों में उगाए जाने वाले इन फ्रूट्स की है खूब मांग, जाने क्या हैं इनके नाम ?

कश्मीर के बागानों में सेब, आडू, अखरोट, बादाम और चेरी उगाए जाते हैं. जिन्हें अमूमन देश के हर घर में इस्तेमाल किया जाता है. कश्मीर अपने ड्राई-फ्रूट्स के लिए जाना जाता है. 

सेब

1/5
सेब

कश्मीरी सेब की खासियत उनके विशेष स्वाद और आकर्षक रंग में है। ये सेब ठंडे इलाकों के लिए उपयुक्त होते हैं और उन्हें लंबे समय तक स्टोर किया जा सकता है. सेब उत्पादन कश्मीर के प्रमुख खेती का एक हिस्सा है. कश्मीरी सेब को भारत के अलावा इंटरनेशनल मार्केट में भी खूब पसंद किया जाता है.

आडू

2/5
आडू

कश्मीरी आड़ू की मिठास और इसका बेहतरीन रंग ही इसकी खासियत है. आडू में छोटे-छोट काले बीज होते हैं जो इसे अनूठा बनाते हैं. कश्मीरी रसदार आडू स्वाद से भरपूर होता है. इसमें पाए जाने वाले फाइबर, विटामिन, मिनिरल्स और पोषक तत्व इसे बाकि फलों से खास बनाते हैं. 

अखरोट

3/5
अखरोट

कश्मीर का अखरोट भी बाकि के ड्राई-फ्रूट्स की ही तरह अपने आप में अनोखा है. वैसे तो कश्मीरी अखरोट को कश्मीर की किसी भी मिट्टी में उगाया जा सकता है. लेकिन बारामूला के अखरोट की बात ही अलग है. 

बादाम

4/5
बादाम

कश्मीरी बादाम अपने बेहतरीन स्वाद और गुणों के लिए प्रसिद्ध हैं. इनमें अधिक मात्रा में पोषक तत्व, प्रोटीन, फाइबर, विटामिन, और खनिज होते हैं. जोकि सेहत के लिए फायदेमंद हैं. इन्हें सीधे खाने के साथ-साथ मिठाइयों और खाद्य सामग्रियों में भी उपयोग किया जाता है.

चेरी

5/5
चेरी

कश्मीरी चेरी की खासियत उनके मीठे स्वाद और गुणवत्ता में है। ये चेरी आमतौर पर बड़े आकार और गहरे लाल रंग के लिए पसंद की जाती हैं. इनमें विटामिन, खनिज और पोषक तत्व होते हैं जो सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं. इन्हें सीधे खाने के साथ-साथ मिठाइयों और खाद्य सामग्रियों में भी उपयोग किया जाता है.