Amitabh Ranjan Sinha: जल शक्ति अभियान की प्रोग्रेस देखने पहुंचे अमिताभ रंजन सिन्हा...

Jal Shakti Abhiyan: रिव्यू मीटिंग के दौरान डॉ. ओवैस अहमद ने अमिताभ रंजन को बांदीपोरा में जल जीवन मिशन की उपलब्धियों के बारे में जानकारी दी. उन्होंने बताया कि जल जीवन मिशन के तहत जिले में अधिकांश योजनाएं पूरी हो चुकी हैं और बाकि बचे कुछ प्रोजेक्ट्स जल्द ही पूरे कर लिए जाएंगे.

Amitabh Ranjan Sinha: जल शक्ति अभियान की प्रोग्रेस देखने पहुंचे अमिताभ रंजन सिन्हा...

Jammu and Kashmir: केंद्रीय ज्वॉइंट सेक्रेटरी और रक्षा मंत्रालय के अतिरिक्त वित्तीय सलाहकार, अमिताभ रंजन सिन्हा शुक्रवार को बांदीपोरा पहुंचे. बांदीपोरो के केंद्रीय नोडल अधिकारी अमिताभ रंजन ने आज जिले में जल शक्ति मिशन की प्रगति का रिव्यू करने के लिए जिले का दौरा किया.

जल शक्ति अभियान की प्रगति की समीक्षा के लिए अमिताभ रंजन सिन्हा ने बांदीपोरा के कॉन्फ्रेंस हॉल में प्रशासनिक अधिकारियों के साथ एक बैठक की. इस रिव्यू मीटिंग के दौरान बांदीपोरा के उपायुक्त डॉ. ओवैस अहमद और अन्य प्रशासनिक अधिकारी भी यहां मौजूद रहे.

रिव्यू मीटिंग के दौरान डॉ. ओवैस अहमद ने अमिताभ रंजन को बांदीपोरा में जल जीवन मिशन की उपलब्धियों के बारे में जानकारी दी. उन्होंने बताया कि जल जीवन मिशन के तहत जिले में अधिकांश योजनाएं पूरी हो चुकी हैं और बाकि बचे कुछ प्रोजेक्ट्स जल्द ही पूरे कर लिए जाएंगे.

रिव्यू मीटिंग में अधिकारियों को संबोधित करते हुए, केंद्रीय संयुक्त सचिव अमिताभ रंजन सिन्हा ने कहा कि आज की इस विज़िट का मकसद जल शक्ति अभियान की प्रगति की समीक्षा करना था. जो प्रभावी और समन्वित तरीके से जल स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए शुरू किया गया है. उन्होंने कहा कि जिले में जल शक्ति अभियान को सफलतापूर्वक लागू करने के लिए प्रशासन की ओर से काफी प्रयास किये जा रहे हैं.

इस दौरान, अमिताभ रंजन ने अमृतसरोवर प्रोजेक्ट के विकास कार्यों में 82 प्रतिशत का लक्ष्य हासिल करने के लिए जिला प्रशासन के प्रयासों की भी तारीफ की.

इसके अलावा अमिताभ रंजन को बताया गया कि जल जीवन मिशन (JJM) के तहत जिले में एक जल शक्ति केंद्र (JSK) भी स्थापित किया गया है और जिले में ऐसे और केंद्र बनाने का प्रयास किया जा रहा है.

वहीं, बादंपोरा के Deputy Commissioner ने जल शक्ति अभियान के तहत विभिन्न विभागों द्वारा जिले में की जा रही गतिविधियों पर भी प्रकाश डाला.

Latest news

Powered by Tomorrow.io