ड्रोन-हैलीकॉप्टर से आतंकियों की तलाश तेज़, जल्द पकड़े जाएंगे जंगल में छुपे आतंकी?

दरअसल, कल चीफ ऑफ आर्मी मनोज पांडे खुद बफलियाज और ढेरा की गली इलाके का दौरा करने ऑपरेशन साइट पहुंचे थे. इसके बाद से ही सेना के एक्शन प्लान में कई मेजर बदलाव करते हुए जंगल के चप्पे चप्पे पर नज़र रखने के लिए ज़मीनी अभियान के साथ ड्रोन और हैलीकॉप्टर की मदद ले रही है सेना.

ड्रोन-हैलीकॉप्टर से आतंकियों की तलाश तेज़,  जल्द पकड़े जाएंगे जंगल में छुपे आतंकी?

राजौरी Army Search operation by Drone-Helicopter : राजौरी में हुए आतंकी हमले के बाद से सेना ने सर्च ऑपरेशन में तेज़ी लाते हुए ड्रोन और हैलीकाप्टर का सहारा लिया है. जीहां, पूरे इलाके में सिक्योरिटी फोर्स बढ़ा दी गई और जगह जगह सेना के जवानों को तैनात किया गया है. 

दरअसल, कल चीफ ऑफ आर्मी मनोज पांडेया खुद बफलियाज और ढेरा की गली इलाके का दौरा करने ऑपरेशन साइट पहुंचे थे.  इसके बाद से ही सेना के एक्शन प्लान में कई मेजर बदलाव किए गए. 

आर्मी चीफ ने सबसे पहले कंमाडरों से मुलाकात की और प्रोफेशनल तरीके से काम करने की हिदायत देते हुए आगे के एक्शन प्लान में कई बड़े बदलाव किए. इसके साथ ही अब पूरे इलाके में छठे दिन  तलाशी अभियान और तेज़ किया गया है. पुंछ और राजौरी इलाके में इंटरनेट सेवाएं बिलकुल बंद हैं. और आज भी ज़मीनी अभियान के साथ ड्रोन और हैलीकॉप्टर की मदद से दहशतगर्तों की तलाश में फोर्स पूरी तरह से जुटी हुई हैं. 
 

Latest news

Powered by Tomorrow.io