राजौरी में दिखे 4 संदिग्ध, बड़े पैमान पर सर्च ऑपरेशन शुरू...

घटना राजौरी-जम्मू हाईवे पर राजौरीके फलयाना मुरादपुर की है. जिन चार लोगों के बारे में पुलिस को सूचना मिली है उनमें से एक शख्स ने आर्मी की यूनिफॉर्म की तरह कपड़े पहने हुए थे. जानकारी के मुताबिक पुलिस को इन चार संदिग्धों के बारे में सूचना देने वाली एक छात्रा है जो बृहस्तिवार दोपहर स्कूल से घर लौट रही थी. उसी वक्त उस छात्रा को 4 संदिग्ध लोगों इलाके में घूमते दिखे. सभी के कंधों पर बैग थे और उनमें से एकने सेना की वर्दी जैसे कपड़े पहने थे.

राजौरी में दिखे 4 संदिग्ध, बड़े पैमान पर सर्च ऑपरेशन शुरू...

जम्मू कश्मीर 4 Suspect seen in Rajouri : एक तरफ जहां कश्मीर में चिल्लई कलां का दौर शुरु हो गया है तो वहीं दूसरी तरफ सेना के बहादुर जवान कड़ाके की ठंड में आतंकियों को पकड़ने की मुहिम चला रहें हैं. इस बीच अब खबर ये सामने आई है कि सेना को चार संदिग्ध लोगों की सूचना मिली है जिसके बाद सुरक्षाबल अलर्ट हो गए हैं. 

घटना राजौरी-जम्मू हाईवे पर राजौरीके फलयाना मुरादपुर की है. जिन चार लोगों के बारे में पुलिस को सूचना मिली है उनमें से एक शख्स ने आर्मी की यूनिफॉर्म की तरह कपड़े पहने हुए थे. जानकारी के मुताबिक पुलिस को इन चार संदिग्धों के बारे में सूचना देने वाली एक छात्रा है जो बृहस्तिवार दोपहर स्कूल से घर लौट रही थी. उसी वक्त उस छात्रा को 4 संदिग्ध लोगों इलाके में घूमते दिखे. सभी के कंधों पर बैग थे और उनमें से एकने सेना की वर्दी जैसे कपड़े पहने थे. 

जैसे ही पुलिस को इन चार संदिग्धों की सूचना मिली, उन्होंने इलाके में फौरन सर्च ऑपरेशन तेज़ कर दिया. हालांकि कल देर शाम तक सेना को इस ऑपरेशन में कोई कामयाबी नही मिली है मगर अब भी इलाके के चप्पे चप्पे पर सेना की नज़र है और लोगों से पूछताछ भी की जा रही है. 

गौरतलब है कि पिछले साल 14 दिसंबर को भी इसी फलयाना मुरादपुर में संदिग्धों के बारे में खबर मिली थी लेकिन उस वक्त भी तलाशी अभियान में सेना को सफलता नही मिली लेकिन हैरानी की बात ये है कि उसके 2 दिन बाद 16 दिसंबर को अल्फा टीसीपी स्थित सेना के कैंप के मेन गेट के सामने संदिग्ध गोलीकांड में दो मकामी लोगों की जान चली गई. 

ऐसे में 4 संदिग्धों के देखे जाने की खबर को सेना बिलकुल भी हल्के में नही ले रही है. और तलाशी अभियान को जारी रखकर पूरे इलाके को खंगालने में जुटी है.

Latest news

Powered by Tomorrow.io