Ladakh: कारगिल के ARTO ऑफिस में पिछले एक महीने से नहीं हुआ कोई ड्राइविंग टेस्ट

Lack of Staff in ARTO Office Kargil: कारगिल ARTO ऑफिस में बीते एक महीने से न तो कोई लर्निंग टेस्ट हुआ है और न ही कोई ड्राइविंग टेस्ट. बहुत से लोग अपने वाहनों के फिटनेस सर्टिफिकेट के लिए हैं परेशान.

Ladakh: कारगिल के ARTO ऑफिस में पिछले एक महीने से नहीं हुआ कोई ड्राइविंग टेस्ट

Kargil ARTO Office: लद्दाख के कारगिल में ARTO ऑफिस में स्टाफ की कमी है. जिसकी वजह से जनता को काफी परेशानी हो रही है. बीते एक महीने से जनता को सुविधा नहीं मिली है. कार्यालय के काम-काज और सुविधाओं पर किए गए सवालों से ARTO बचते रहे. 

आपको बता दें कि कारगिल के ARTO Office की तरफ से बीते एक महीने से कोई भी लर्निंग टेस्ट, ड्राइविंग टेस्ट या फिटनेस टेस्ट नहीं किया गया है. जिसकी वजह से नौजवानों, ड्राइवरों, आम जनता को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है. 

सूत्रों के मुताबिक, संबंधित विभाग की समिति और इंसपेक्टर के ट्रांसफर के बाद से RTO office ठप्प पड़ा है. वहीं, मंगलवार सुबह कारगिल के तकरबीन 3 दर्जन नौजवाव लर्निंग टेस्ट के लिए ARTO दफ्तर पहुंचे. लेकिन इंस्पेक्टर की गैरमौजूदगी की वजह से उनका टेस्ट न हो सका. 

गौरतलब है कि लर्निंग लाइसेंस और ड्राइविंग टेस्ट के लिए पहुंचे इन नौजवानों में से ज्यादातर जांस्कर, द्रास और फारफुलांग इलाके से ताल्लुक रखते हैं. इन सभी नौजवानों को बीते एक महीने से इनके काम के पूरा हो जाने का इंतजार हैं.

वहीं, यहां मौजूद ज़ांस्कर के एक नौजवान ने शिकायती लहजे में कहा कि वो पिछले 21 दिनों से लर्निंग टेस्ट का इंतजार कर रहा है. उसने बताया कि सर्दिया शुरू हो चुकी हैं. जिसके बाद कारगिल से ज़ांस्कर तक जाने वाली सड़क के बंद होने की भी संभावना है. अभी तक उसका टेस्ट नहीं हुआ है और वो काफी परेशान है. नौजवान ने लद्दाख प्रशासन से तत्काल कार्रवाई करने की अपील की. 

वहीं, विभाग के अधिकारी जनता की समस्याओं के सवालों से बचते रहे. उन्होंने कहा कि इस मामले को उच्च अधिकारियों के समक्ष उठाया गया है.
 

Latest news

Powered by Tomorrow.io