Old Parade Mandi: जम्मू की पुरानी परेड मंडी में दुकान का किराया बढ़ा, कारोबारी परेशान...

Rent Hikes in Old Parade Mandi: पहले कारोबारियों से 10 रूपए पर स्क्वयर फुट किराया लिया जाता था जो बाद में बढ़ाकर 12 रूपए लिया जाने लगा. वहीं अब किराया बढ़ाकर 15 रूपए फी स्क्वायर फुट कर दिया गया है.

Old Parade Mandi: जम्मू की पुरानी परेड मंडी में दुकान का किराया बढ़ा, कारोबारी परेशान...

Jammu and Kashmir: जम्मू की सबसे पुरानी परेड सब्ज़ी मंडी में दुकानों का किराया 3 रूपए पर स्क्वायर फुट बढ़ने पर मंडी के कारोबारी नाराज़ हैं. दरअसल, परेड सब्ज़ी मंडी में 200 से ज़्यादा छोटी बड़ी दुकाने हैं. इस सभी दुकानों के कारोबारी इंतेज़ामिया के किराया बढ़ाने के फरमान से नाराज़ हैं. 

दुकानों के बढ़े हुए किराए को लेकर मंडी के प्रधान सुभाष चन्दर शर्मा ने कहा की लोग यहाँ कई दशकों से कारोबार कर रहे हैं. ऐसे में दुकानदारों की शिकायत है कि वक्त वक्त पर इंतेज़ामिया के ज़रिए दुकानों का किराया बढ़ा दिया जाता है. लेकिनर मंडी की खस्ता हालत पर किसी का ध्यान नहीं जाता. 

उन्होंने बताया कि कई बार इसकी शिकायत नगर निगम को की गई है. लेकिन कोई भी क़दम नहीं उठाए गए हैं. उन्होंने कहा की पहले कारोबारियों से 10 रूपए पर स्क्वयर फुट किराया लिया जाता था जो बाद में बढ़ाकर 12 रूपए लिया जाने लगा. वहीं अब किराया बढ़ाकर 15 रूपए फी स्क्वायर फुट कर दिया गया है. 

आपको बता दें कि कारोबारियों ने बढ़ा हुआ किराया अदा करने से साफ इनकार कर दिया है और इंतेज़ामिया से नया ऑर्डर वापस लेने की मांग की है.

जम्मू की सबसे पुरानी परेड सब्ज़ी मंडी में दुकानों का किराया 3 रूपए पर स्क्वायर फुट बढ़ने पर मंडी के कारोबारी नाराज़ हैं. दरअसल, परेड सब्ज़ी मंडी में 200 से ज़्यादा छोटी बड़ी दुकाने हैं. इस सभी दुकानों के कारोबारी इंतेज़ामिया के किराया बढ़ाने के फरमान से नाराज़ हैं. 

दुकानों के बढ़े हुए किराए को लेकर मंडी के प्रधान सुभाष चन्दर शर्मा ने कहा की लोग यहाँ कई दशकों से कारोबार कर रहे हैं. ऐसे में दुकानदारों की शिकायत है कि वक्त वक्त पर इंतेज़ामिया के ज़रिए दुकानों का किराया बढ़ा दिया जाता है. लेकिनर मंडी की खस्ता हालत पर किसी का ध्यान नहीं जाता. 

उन्होंने बताया कि कई बार इसकी शिकायत नगर निगम को की गई है. लेकिन कोई भी क़दम नहीं उठाए गए हैं. उन्होंने कहा की पहले कारोबारियों से 10 रूपए पर स्क्वयर फुट किराया लिया जाता था जो बाद में बढ़ाकर 12 रूपए लिया जाने लगा. वहीं अब किराया बढ़ाकर 15 रूपए फी स्क्वायर फुट कर दिया गया है. 

आपको बता दें कि कारोबारियों ने बढ़ा हुआ किराया अदा करने से साफ इनकार कर दिया है और इंतेज़ामिया से नया ऑर्डर वापस लेने की मांग की है.

Latest news

Powered by Tomorrow.io