अगर आप कश्मीर आ रहे है तो डल लेक शिकारा का लुत्फ जरूर उठाये

ये तस्वीर है डल लेक की जहां शिकारा का लुत्फ उठाते पर्यटक अपने आप को सुकुन में पाते है, जम्मू कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में आप अगर आयें और डल लेक की ओर न जाये ऐसा हो ही नहीं सकता। कश्मीर घुमने के लिए आने वाला हर पर्यटक डल लेक के बारे में पहले से ही जानता है, और ऐसा इसलिए क्योंकि अक्सर लोग फिल्मों में कश्मीर की खुबसुरती को देखकर काफी प्रभावित होते है और कश्मीर देखने जरूर आते है। डल लेक को अपनी खुली आंखों से देख लेने भर से पर्यटकों में रोमांच भर जाता है ।

अगर आप कश्मीर आ रहे है तो डल लेक शिकारा का लुत्फ जरूर उठाये

श्रीनगर- कश्मीर की वादियों में घुमने के लिए पर्यटकों का जमघट पूरे साल लगा रहता है, हर कोई चाहता है कम समय में पूरे कश्मीर को घुम लेना, ऐसे में श्रीनगर के डल झील की खुबसुरती को देखना और शिकारा की सवारी करना पर्यटकों के लिए रोमांच से भरा होता है।

ये तस्वीर आपकी आखों को ठंडक पहुंचाने के लिए काफी है। ये तस्वीर आपकों कश्मीर के खुबसुरत नजारें दिखाने के लिए काफी है। ये तस्वीर है डल लेक की जहां शिकारा का लुत्फ उठाते पर्यटक अपने आप को सुकुन में  पाते है, जम्मू कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में आप अगर आयें और डल लेक की ओर न जाये ऐसा हो ही नहीं सकता। कश्मीर घुमने के लिए आने वाला हर पर्यटक डल लेक के बारे में पहले से ही जानता है, और ऐसा इसलिए क्योंकि अक्सर लोग फिल्मों में कश्मीर की खुबसुरती को देखकर काफी प्रभावित होते है और कश्मीर देखने जरूर आते है। डल लेक को अपनी खुली आंखों से देख लेने भर से पर्यटकों में रोमांच भर जाता है । लेकिन उस रोमांच में मस्ती भरने का काम करता है शिकारा, ये एक हाउस बोट के रूप में आपको पूरे डल लेक में देखने को मिलेंगे ।  ये एक लकड़ी की नाव है जिसका इस्तेमाल पूरे कश्मीर की झीलों में लोगों और सामानों को एक जगह से दूसरे जगह पहुंचाने के लिए किया जाता है। चमकीले रंगों में रंगे हुये शिकारा टूरिस्टों को अपनी ओर आकर्षित करता है।
 
डल झील के इस हिस्से के साथ वाली सड़क को बुलेवार्ड स्ट्रीट के रूप में जाना जाता है और अक्सर पर्यटक डूबते हुये सुरज को देखने के लिए और डल के आस पास टहलते हुये नजर आ जायेंगे । शिकारा में आपको घुमने के दौरान तरह तरह के सेल्समैन दिखाई देंगे जो अपनी जीजें आपको सफर के दौरान बेचेंगे। वहीं शिकारा के अंदर ही आपको फोटोग्राफर के साथ स्टूडियों बना हुआ मिलेगा जहां आप कश्मीर की पारंपरिक पहनावे को पहनकर फोटों खिचवा सकते है और फोटों खीचने के बाद फोटो आपके होटल तक पहुंचाने की जिम्मेदारी भी उनकी है। कश्मीर घुमने आये पर्यटकों का कहना है कि कश्मीर की वादियों में सभी को घुमने के लिए जरूर आना चाहिए, लोगों की बातों और अफवाहों पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है। कश्मीर के बाशिन्दे बाहरी लोगों का स्वागत बड़े दिल से करते है और पर्यटकों से ऐसा व्यवहार किया जाता है कि उन्हें ऐसा महसूस ही नहीं होता कि वो कश्मीर घुमने आये है या फिर यहीं के रहने वाले है।  

कश्मीर देखने के लिए आने वाला हर टूरिस्ट सबसे पहले श्रीनगर के डल झील की ओर आता है और यहां पर रंग बिरंगे शिकारा जिन्हें हाउस बोट कहते है उनके स्वागत के लिए हमेशा तैयार रहते है। 

Latest news

Powered by Tomorrow.io