Ladakh Eco Tourism: लद्दाख में ईको-टूरिज्म को दिया जा रहा बढ़ावा, हर गांव में बनेंगे 10 होम स्टे...

Ladakh Tourism Department: होमस्टे के दौरान सैयाहों यानि टूरिस्ट्स के खाने पीने का भी पूरा इन्तेजाम होगा. जागरूकता प्रोग्राम के दौरान विभाग ने घर के मालिकान को मेहमान नवाज़ी का तरीका भी सिखाया. इस मौके पर SDM के अलावा चिकतन के BDC, मकामी सरपंच और पंच के अलावा एंवायरमेंट एंड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन के डिप्टी डायरेक्टर ताशी थुकमत भी मौजूद रहे. एसडीएम और डिप्टी डायरेक्टर का कहना है कि सरकार के इस फैसले से इको टूरिज्म के साथ ही देही मईशत भी मजबूत होगी.

Ladakh Eco Tourism: लद्दाख में ईको-टूरिज्म को दिया जा रहा बढ़ावा, हर गांव में बनेंगे 10 होम स्टे...

Ladakh Home Stay Program: लद्दाख में ईको टूरिज्म (Eco-Tourism) को बढ़ावा देने के लिए प्रशासन की तरफ से नए-नए कदम उठाए जा रहे हैं. ऐसे में यूटी इन्तेजामिया की तरफ से शुरू किए गए होम स्टे प्रोग्राम (Home Stay Program) के तहत इच्छुक लोगों को सभी सुविधाएं फराहम की जा रही हैं. 

ऐसे में प्रशासन ने कारगिल जिले के चिकतन में दस लोगों के घरों को सलेक्ट किया और उन्हें घरेलू इस्तेमाल की सभी चीजें फराहम कराई गईं.

वहीं, शकर के SDM अब्दुल गफ्फा जरगर ने मटेरियल डिस्ट्रीब्यूशन सेरेमनी का इफ्तेताह किया. इस प्रग्राम का आयोजन लद्दाख एंवायरमेंट एंड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन की तरफ से किया गया. इस मौके पर एक अवेएरनेस प्रोग्राम को भी शुरू किया गया. 

आपको बता दें कि ईको टूरिज्म प्रोजेक्ट के तहत लद्दाख के हर गांव में दस घरों को मुन्तखब (Select) किया गया है. इन गांवो में एक-एक क्राफ्ट और कैफे स्टाल भी कायम किए गए हैं. 

वहीं, इस प्रोजेक्ट का कामयाब बनाने के लिए. इन्तेजामिया की तरफ से हर गांव में एक विलेज टूर ऑपरेटर ग्रुप बनाने के साथ ही एक को-ऑर्डिनेटर की भी व्यवस्था की गई है. 

होमस्टे के दौरान सैयाहों यानि टूरिस्ट्स के खाने पीने का भी पूरा इन्तेजाम होगा. जागरूकता प्रोग्राम के दौरान विभाग ने घर के मालिकान को मेहमान नवाज़ी का तरीका भी सिखाया. इस मौके पर SDM के अलावा चिकतन के BDC, मकामी सरपंच और पंच के अलावा एंवायरमेंट एंड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन के डिप्टी डायरेक्टर ताशी थुकमत भी मौजूद रहे. एसडीएम और डिप्टी डायरेक्टर का कहना है कि सरकार के इस फैसले से इको टूरिज्म के साथ ही देही मईशत भी मजबूत होगी. 
 

Latest news

Powered by Tomorrow.io